ताइवान को लेकर चीन तेजी से कर रहा सैन्‍य तैयारियां, 2027 या उससे पहले ही छेड़ सकता है युद्ध

0
95

हांगकांग: ताइवान को लेकर चीन की आक्रामकता दिनोंदिन बढ़ती जा रही है। हाल के वर्षों के दौरान ताइवान एक चिंताजनक मुद्दा बन गया है। इसकी कई वजहें हैं। चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी यानी पीएलए बार बार ताइवान के हवाई क्षेत्रों में घुसपैठ कर रही है। खासकर समुद्री गतिविधियों को लेकर उसका रवैया टकराव बढ़ाने वाला है। जानकारों ने कहा कि ताइवान को लेकर चीन के आक्रामक रवैये का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पीएलए की ओर से 2027 या उससे पहले हमला करने की आशंकाएं बढ़ गई हैं।
अमेरिकी इंडो-पैसिफिक कमांड के प्रमुख एडमिरल फिलिप डेविडसन ने अमेरिकी कांग्रेस को चेतावनी दी कि 2027 या उससे पहले चीनी हमला हो सकता है। उन्‍होंने कहा कि मुझे चिंता है कि चीन 2050 तक संयुक्त राज्य अमेरिका और नियम-आधारित अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था में अमेरिकी नेतृत्व की भूमिकाओं को बदलने की अपनी महत्वाकांक्षाओं को तेज कर रहे हैं। ताइवान स्पष्ट रूप से उनकी महत्वाकांक्षाओं में शामिल है। ऐसा लग रहा है कि खतरा इस दशक के दौरान या अगले छह वर्षों में नजर आ सकता है।