दुनियाभर की महिलाओं के लिए उनका अपना घर ही बना ‘खतरनाक’ :अमेरिकी शोध

0
39

दुनिया में महिलाओं के खिलाफ हो रहे गंभीर अपराधों को लेकर चौंकाने वाले आंकड़े सामने आए हैं. अमेरिका में हुए एक शोध के अनुसार, दुनियाभर में प्रतिदिन करीब 137 महिलाओं की हत्या की जा रही है. वर्ष 2017 के आंकड़ों के लेकर इस शोध में सामने आए नतीजे की मानें, तो इन महिलाओं की हत्या उनके ही परिवार के सदस्यों द्वारा की गई. वहीं, इन हत्याओं के पीछे सबसे बड़ा कारण उनके द्वारा बनाए गए यौन-संबंध हैं.

58 फीसदी महिलाओं की हत्या में शामिल थे उनके परिवार या प्रेमी
यूनाइटेड नेशन्स ऑफिस ऑन ड्रग्स एंड क्राइम द्वारा किए गए शोध में कहा गया है कि वर्ष 2017 में कुल 87,000 महिलाओं की हत्याएं हुई थीं. इस आंकड़े में आधे से ज्यादा 50,000 (58 फीसदी) महिलाओं की हत्या उनके ही परिवार वालों या प्रेमी ने की है. वहीं, 30,000 महिलाओं की जानबूझकर की गई हत्या उनके पूर्व प्रेमी या वर्तमान प्रेमी द्वारा की गई हैं. यह हत्या ऐसे लोगों द्वारा की गई हैं जिनपर महिलाएं आसानी से भरोसा कर सकती हैं.

2012 के शोध में यह आंकड़ा था 47 फीसदी
इस शोध के अनुसार, महिलाओं के लिए उनका घर ही सबसे खतरनाक स्थान बन गया है. वहीं, यह खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है. इसे वर्ष 2012 में हुआ शोध पूरी तरह से साबित कर रहा है. 2012 के शोध में कुल 48,000 महिलाओं (47 फीसदी) की हत्याएं उनके परिवार वालों या प्रेमी ने की थी. शोध के अनुसार, महिलाओं की हत्या के मामले उनके परिवार वालों या प्रेमी द्वारा वैश्विक स्तर पर लगातार बढ़ रहे हैं.
हर घंटे हो रही है 6 महिलाओं की हत्या
इस शोध के आंकड़ों की मानें, तो दुनियाभर में हर घंटे में 6 महिलाओं की हत्या उन लोगों द्वारा की गई जिन्हें वह जानती थीं. वहीं, प्रति एक लाख महिलाओं पर 1.3 की वैश्विक दर से हत्या जैसे अपराध को अंजाम दिया जाता है. यह शोध 25 नवंबर को महिलाओं के खिलाफ हिंसा के उन्मूलन के लिए मनाए जाने वाले अंतर्राष्ट्रीय दिवस (International Day for the Elimination of Violence against Women) पर जारी किया गया.