देर तक सोने के नुकसान और फायदे

0
474
Young sleepy girl yawning in comfortable bed

स्वस्थ रहने के लिए पूरी नींद लेना बहुत जरूरी है। सामान्य रूप से हम सभी को 8 से 10 घंटे सोना चाहिए। स्वस्थ व्यक्ति इससे कम सोने के बावजूद भी स्फूर्ति से भरे रहते हैं। सोने का समय सही होना चाहिए। कम सोना या ज्यादा सोना दोनों ही स्वस्थ पर बुरा असर डालते हैं। देर तक सोना शरीर में आलस बढ़ाता है। लेकिन बहुत से लोग पूछते हैं कि ज्यादा सोने से क्या होता है। आइए इस लेख में देर तक सोने के नुकसान जानते हैं।
ज्यादा सोने के नुकसान

देर तक सोने के नुकसान
1. डिप्रेशन होना
देर तक सोने वाले व्यक्ति टेंशन और डिप्रेशन का शिकार आसानी से हो जाते हैं। 9 घंटे से अधिक सोने से दिमाग की क्षमता घटती है। दिमाग सुस्त हो जाता है, जिससे शरीर की स्फूर्ति खो जाती है। मानसिक स्वास्थ्य अच्छा रहे तो आप अनावश्यक न सोएं और आलस छोड़ें।

2. प्रजनन क्षमता घटना
ज्यादा सोने वाली महिलाओं की प्रजनन क्षमता घट जाती है। अनियमित सोने से हार्मोन स्राव और मासिक धर्म चक्र बिगड़ जाता है। इसलिए महिलाओं को समय पर सोना चाहिए और 8 घंटे की नींद लेनी चाहिए।

3. वजन बढ़ना
देर तक सोने के नुकसान में वजन बढ़ना भी शामिल है। सोते समय चयापचय क्रिया यानि मेटाबॉलिज्म धीमा रहता है। शरीर बहुत कम ऊर्जा खर्च करता है। फलस्वरूप कम कैलोरी बर्न होती है। जिससे शरीर में चर्बी बढ़ने लगती है।

4. जैविक घड़ी में असंतुलन
ज्यादा सोने से बायोलॉजिक क्लॉक असंतुलित हो जाती है। जिससे शरीर में आलस बढ़ता है, दिनभर सुस्ती रहती है, मूड खराब रहता है, सिरदर्द, एकग्रता में कमी, पीठ दर्द और बदन दर्द के साथ-साथ थकान का अनुभव होता है।

5. दिल की बीमारी
ज्यादा देर तक सोने की वजह से दिल की बीमारी का खतरा रहता है। 9 घंटे से कम सोयें। सोते समय बायीं करवट सोना चाहिए। इससे हार्ट फंक्शन पर लोड नहीं पड़ता है और ब्लड सर्कुलेशन अच्छा रहता है।

6. मधुमेह का डर
ज्यादा सोना टाइप-2 डायबिटीज के खतरे को दुगुना कर देता है। इसलिए शरीर को एक्टिव और फिट रखें। जिससे 8 घंटे में नींद पूरी कर सकें और बीमारियों से बचें।

7. मृत्यु की संभावना
बहुत से लोग मानते हैं कि ज्यादा सोना यानि मृत्यु को न्योता देना है। लेकिन यह सच नहीं है। देर तक सोने के नुकसान कितने भी हो लेकिन इससे उम्र लम्बी होती है। लम्बा जीवन जीने के लिए शरीर को सक्रिय और संतुलित रखना चाहिए।

आयुर्वेद में जीवन में किसी भी प्रकार का असंतुलन बीमारी का कारण है। देर तक सोने से सपने आते हैं। नींद में सपने देखना अच्छा लक्षण नहीं है। अच्छी नींद आने का अर्थ है नींद खुलने के बाद आप शरीर में शक्ति और स्फूर्ति महसूस करें।
अच्छी नींद के लिए उपाय

समय पर भोजन करें
रात में गरिष्ठ भोजन करने से बचें
नियमित व्यायाम करें
सोने से दो घंटे पहले भोजन करें
अच्छी नींद पाने के लिए घर पर ये पौधे लगाएं

ज्यादा सोने के नुकसान जानने के बाद आदत में बदलाव करने में 15-20 दिन लग सकते हैं। सोने का समय धीरे धीरे कम करें। जिससे 8 घंटे में बिना सपने देखे नींद पूरी हो सके।