घर में मौजूद हल्‍दी, मिर्च और अदरक सेहत के लिए है खास, इम्‍यूनिटी बढ़ाने में भी सहायक

0
102

वैश्विक कोरोना महामारी के बीच हर कोई एक ही बात कर रहा है कि यदि इससे बचना है तो अपनी इम्‍यूनिटी को स्‍ट्रॉन्‍ग रखना जरूरी है। इसके लिए हेल्‍दी फूड खाना बेहद जरूरी है। इसमें कोई शक की गुंजाइश भी नहीं है कि हेल्‍दी फूड से हमारी इम्‍यूनिटी स्‍ट्रॉन्‍ग होती है, लेकिन इसके साथ ही भारतीयों की रसोई में ऐसी बहुत सी चीजें हैं जिनसे इम्‍यूनिटी को मजबूत किया जा सकता है। इनमें से कई सारी चीजों के फायदे हम जानते भी हैं और यदि नहीं भी जानते हैं तो भी इनका इस्‍तेमाल हम अपने जायके के लिए काफी समय से करते आ रहे हैं। टाटा संपन्‍न की तरफ से सोमवार को हुए एक वेबनियर में इसको लेकर काफी कुछ जानकारी दी गई। इसमें सेलिब्रेटी शेफ संजय कपूर के अलावा आयुष मंत्रालय के एडवाइज डॉक्‍टर मनोज नेसरी, न्‍यूट्रीशनिस्‍ट कविता देवगन के साथ शाहिद कपूर की वाइफ मीरा राजपूत कपूर भी शामिल हुई थीं।
इस वेबनियर के माध्‍यम से इन सभी ने हमारी रसोई में रखे उन मसालों और उनसे जुड़े फायदों के अलावा कई अन्‍य चीजों की भी जानकारी दी। संजयू कपूर ने बताया कि हल्‍दी के गुणों के बारे में जितना कहा जाए उतना ही कम है। ये न सिर्फ इम्‍यूनिटी बूस्‍टर है बल्कि एक नेचुरल एंटीसेप्टिक भी है। उन्‍होंने बताया कि रात में यदि हल्‍दी को दूध में मिलाकर उबाल लिया जाए तो उसके सारे तत्‍व दूध में अच्‍छे से मिल जाते हैं। इसके बाद इसमें एक चुटकी काली मिर्च डालकर यदि पिया जाए तो न सिर्फ इसका स्‍वाद बढ़ जाता है बल्कि ये कई तरह से फायदेमंद भी होता है।
डॉक्‍टर नेसरी का कहना था कि हल्‍दी का उपयोग भारत में सदियों से होता रहा है। अब विदेश में भी इसका इस्‍तेमाल बढ़ रहा है और वो भी भारतीय मसालों और उनके फायदों से दो-चार हो रहे हैं। उनके मुताबिक हल्‍दी एक एंटीसेप्टिक तो है ही लेकिन ये कैंसर जैसी बीमारी के इलाज में भी फायदेमंद होती है। उनका कहना था कि हल्‍दी का सेवन करने से इसका सीधा असर लीवर पर पड़ता है, जो हमारे शरीर का महत्‍वपूर्ण अंग है। ये इसको मजबूत बनाता है। इसके अलावा हल्‍दी शरीर में जमे फैट को भी कम करने में गुणकारी होती है। उन्‍होंने ये भी बताया कि हल्‍दी के अलावा अदरक भी भारतीयों की रसोई में मौजूद एक ऐसा ही मसाला है, जिसका सेवन कई तरह से फायदेमंद हो सकता है। इसका इस्‍तेमाल बीमारी में दिए जाने वाले काढ़े से लेकर सब्‍जी और अन्‍य बीमारियों में दवाई की तरह किया जा सकता है। उनके मुताबिक अदरक एक यूनिवर्सल मेडिसिन है।
इस वेबनियर का एक खास मकसद ये भी था कि हम किस तरह से घर में रखे मसालों का इस्‍तेमाल करें। इसके अलावा ये भी बात सामने निकलकर आई कि हम बेहतर मसालों का इस्‍तेमाल करें। बेहतर मसालों से मतलब ये भी है कि इनकी क्‍वालिटी अच्‍छी हो। इसकी वजह एक ये भी है क्‍योंकि मौजूदा समय में खराब और नकली क्‍वालिटी के प्रोडेक्‍ट की वजह से हमारी सेहत पर विप‍रीत असर पड़ता है। इस दौरान संजीव कपूर ने बताया कि थोड़े से तेल में जीरा, लाल मिर्च और नमक के साथ यदि आंवला फ्राई कर खाया जाए तो ये सेहत के लिए भी अच्‍छा होता है। इसको फ्रिज में भी कुछ दिन रखा जा सकता है, लिहाजा इसके खराब होने का डर भी नहीं है।