World Cup 2019: अगर फाइनल के दिन भी होगी बारिश तो क्या होगा?

0
727

इस विश्व कप में बारिश के कारण अब तक चार मैच रद्द हो चुके हैं। नॉटिंघम के ट्रेंटब्रिज मैदान पर गुरुवार को भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेला जाने वाला मैच इसका ताजा उदाहरण है। नॉटिंघम में तीन दिन से लगातार हो रही बारिश की वजह से टॉस तक नहीं हो पाया।लीग मैचों में बारिश से धुलने वाले मैचों के बाद दोनों टीमों में 1-1 अंक बांटा जा रहा है।
लीग मैचों के लिए कोई रिजर्व डे नहीं रखा गया है। लगातार बारिश की वजह से रद्द हो रहे मैचों के बाद सेमीफाइनल की गुत्थी उलझ जाएगी।लेकिन आखिरी राउण्ड में कई चीजें बदलेगी। आईसीसी ने इसके लिए तमाम तरह के नियमों की जानकारी भी दी है। इन नियमों से बारिश की स्थिति में सेमीफाइनल और फाइनल में किस तरह से टीमों को फायदा मिलेगा, आइए बताते हैं आपको।
सेमीफाइनल और फाइनल का मुकाबला टाई रहने की स्थिति में सुपर ओवर से मैच का परिणाम निकाला जाएगा। लीग मैचों में यह नियम लागू नहीं है।
अंक तालिका में बराबर के अंक रहने की स्थिति में लीग मैचों में जीते गए मैच, नेट रनरेट, हेड टू हेड मैचों के नतीजे और टूर्नामेंट से पहले टीमों की स्थिति के बारे में जानने के बाद, जो टीम बेहतर होगी वह सेमीफाइनल में प्रवेश कर पाएगी।
सेमीफाइनल और फाइनल के लिए रिजर्व डे रखा गया है। यदि सेमीफाइनल और फाइनल बारिश की वजह से धूल जाता है, तो मुकाबला अगले दिन खेला जा सकेगा। हालांकि लीग मैचों में रिजर्व डे की व्यवस्था नहीं है। सेमीफाइनल रिजर्व डे पर भी नहीं खेला जा सका तो लीग मैचों में जो भी टीम अंक तालिका में ऊपर रहेगी, उसे फाइनल के लिए क्वालिफाई माना जाएगा।